Hindus are Getting Impotent: Praveen Togadia

image तोगड़िया: हिन्दु नापुंसक होता जा रहा है!!


भरूच: अपने विवादित और बेवकूफ़ाना बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया एक बार फिर चर्चा में हैं। तोगड़िया ने गुजरात के भरुच जिले में एक आम सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदुओं की जनसंख्या कम होने की वजह बढ़ती नामर्दी है। उसने कहा कि “आज का हिंदु नांपुसंक है, उसमें संभोग करने हेतु पौरूष को दीमक चट कर गयी है, याद रखो रोज़ सुबह- दोपहर – रात्री को पत्नी के साथ संभोग अति आवाश्यक है अन्यथा कल को हमसे कटने वाले मुसलमान… हमें काट रहे होगें.”
image
बेकार और बेकाम का हथियार| इस लचीली हथौड़ी से क्या कुछ काम हो सकता है?

प्रवीण तोगड़िया ने हिंदुओं को मुस्लिमों की तुलना में जनसंख्या बढ़ाने की बेतुकी दलील देते हुए कहा, “अब इस देश में हिंदू नहीं घटेगा, हिंदू बढ़ेगा। ज्यादा बच्चे पैदा करो”। तोगड़िया ने कहा, “धर्मांतरण को ना कहो और घर वापसी को हां कहो। लव जिहाद को ना कहो और यूनिफॉर्म सिविल कोड को हां, बांग्लादेशी मुस्लिम को ना और हिंदू घरों में बच्चे पैदा करो।” इसके बाद प्रवीण ने युवाओं को तंबाकू से दूर रहने की सलाह देते हुए कहा कि यह नामर्दी का सबसे बड़ी वजह है।

तोड़गिया एक डॉक्टर है, इसलिए इस मौके पर नापुसंकता को कैश करने वास्ते खुद तैयार किया हुआ प्रोटीन प्रोडक्ट लाए थे। उसे दिखाते हुए उन्होंने युवाओं से कहा कि वैसे तो इसकी कीमत 600 रुपए है, लेकिन हम आपको 500 रुपए में ये देंगे। इसे अपनी पत्नी को दो और उससे कहो कि आपके खाने में पाउडर को मिला दे। इससे आपका पौरुष बचा रहेंगा और आप लगातार बच्चे पैदा कर सकेंगे।

”उसने जंबुसर नाम के शहर में गायों को बचाने की मुहिम चलाने पर भी जोर दिया। वहां पर 30 प्रतिशत जनसंख्या मुस्लिमों की है। उन्होंने कहा, ‘अगर हम लोग अपनी जनसंख्या बढ़ा लेंगे तो जंबुसर में कोई गाय को काटने की हिम्मत नहीं कर पाएगा। तोगड़िया ने सरकार को भी आड़े हाथों लेते हुए कोसा और कहा कि वो बिना हिंदू सरोकारों की किस बात की विकास की नीतियां बना रही है। तोगड़िया ने कहा कि ”आप Bullet Train बना रहे हैं, Smart City बना रहे हैं, लेकिन उन रेलगाड़ियों में कौन सफर करेगा, जब हिंदू ही नहीं रहेंगे?”

हास्यपद है कि अपनें प्रोटीन पैकेट्स को 500- में जनता को बेचने के लिए महाशय ने संम्पूर्ण हिन्दु समाज को ही नामर्द बना दिया और अपने पैकेट्स को एकमात्र ईलाज बताया. लेकिन मुझे नही लगता कि हिंन्दु समाज को बच्चे पैदा करने को प्रवीण तोगड़िया का पाऊडर चाहिये. नापुसंकता नही बल्कि सुनहरे भारत की परिकल्पना करने वाले हिन्दु, मुस्लिम आज एक या दो बच्चों को ही काफ़ी मानते है. और जो उन्हे ऐसा करने से रोकने खड़े है वो वास्तव में भारतीय हो ही नही सकते|


Advertisements

About Shabab Khan

A Journalist, Philanthropist; Author of 'The Magician', 'Go!', 'Brutal'. Being a passionate writer, I am into Journalism and writing columns, news stories, articles for top media house. Twitter: @khantastix khansworld@rediffmail.com
This entry was posted in Consensus Dept, Hinduism, Men and Women, Sex, Society and tagged , , , , , , , , , . Bookmark the permalink.