दाग़ी पत्रकार-सम्पादक ज़ी न्यूज़ के सुधीर चौधरी को सुप्रीम कोर्ट का हाई वोल्टेज झटका

After Fake Sting to Expose Sex Traffiking Against Usha Khanna on Live India next comes Jindal.

सुप्रीम कोर्ट ने ज न्यूज़ के विवादित सम्पादक सुधीर चौधरीऔर उनके साथी समीर अहलूवालिया को शुक्रवार को बड़ा झटका देते हुए कहा कि उन्हें 100 करोड़ के की जबरन उगाही केकेस में अपने वौइस् सैंपल देने होंगे।कोर्ट ने कहा विवादित पैराग्राफ नही पढ़ना होगा, लेकिन शब्द क्या होंगे यह जाँच अधिकारी और सी एस एफ एल डायरेक्टर तय करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने आगे कहा कि विवादित रिकार्डिंग का ट्रांस्क्रिप्ट 2 हफ्ते में कोर्ट में जमा की जाए। कोर्ट ने डाइरेक्टर सीएस एफ एल को आदेश दिया है कि दोनों संपादक टेस्ट के दौरान जो वाक्य पढ़ेंगे वह सील बंद कवर में कोर्ट को सौपे। गौरतलब है कि दो दिन पहले मुख्या न्यायाधीश जस्टिस टी एस ठाकुर की अदालत ने दो सम्पादकों को धमकी दी थी कि नियमों का पालन न किया गया तो उन्हें दुबारा जेल भेज दिया जाएगा।कोर्ट ने संपादको की उस मांग को ठुकरा दिया है जिसमे वॉइस सैंपल से सम्बंधित टेक्स्ट की कॉपी की मांग की गई थी।कोर्ट ने यह भी कहा है कि वॉइस सैंपल का टेक्स्ट क्या होगा यह जाँच अधिकारी तय करेगा आरोपी नही.

Profession Dignity Denigrated: Sameer Ahluwaliya

कोर्ट ने यह प्रक्रिया 2  Weeks  तक में पूरा करने का आदेश दिया है ज़ी न्यूज़ के दोनों सम्पादकों पर आरोप है कि उन्होंने उद्दोगपति नवीन जिंदल से जबरन 100 करोड़ की उगाही की कोशिश की थी और बदले में उनकी कंपनी के खिलाफ कथित सबूतों को स्कैनडल बनाकर प्राईम टाईम में ज़ी न्यूज़ पर नही दिखायी देने की पेशकश की बात की थी|


Written by: Shabab Khan | Updated: 08-July-2016


Advertisements

About Shabab Khan

A Journalist, Philanthropist; Author of 'The Magician', 'Go!', 'Brutal'. Being a passionate writer, I am into Journalism and writing columns, news stories, articles for top media house. Twitter: @khantastix khansworld@rediffmail.com
This entry was posted in Journalist, Media and tagged , , , , . Bookmark the permalink.